कामसूत्र भाग-2, 3 : महर्षि वात्सयायन द्वारा मुफ्त कामसूत्र हिंदी पीडीएफ पुस्तक | Kamasutra Part-2, 3 : by Maharshi Vatsayayan Free Kamasutra Hindi PDF Book 

भाग-1

भाग-2


भाग-3



भाग-4



भाग-5



भाग-6



भाग-7



पुस्तक का विवरण : वात्सायन के कामसूत्र में कुल सात भाग हैं | प्रत्येक भाग कई अध्यायों में बंटे हैं| प्रत्येक अध्याय में कई श्लोक हैं | साहित्य प्रेमियों की सुविधा के लिए पहले संस्कृत और उसके नीचे उसका हिंदी अनुवाद दिया गया | महर्षि वात्सायन का जन्म बिहार राज्य में हुआ था और प्राचीन भारत के महत्वपूर्ण साहित्यकारों में से एक हैं | महर्षि वात्सायन ने कामसूत्र में न केवल दांपत्य जीवन का श्रंगार किया है वरन कला, शिल्पकला एवं साहित्य को भी सम्पादित किया है | अर्थ के क्षेत्र में जो स्थान कोटिल्य का है, काम इके क्षेत्र में वही स्थान महर्षि वात्सायन का है | महर्षि वात्सायन का कामसूत्र विश्व की प्रथम यौन संहिता है जिसमें यौन प्रेम के मनोशारीरिक सिद्धान्तों तथा प्रयोग की विस्तृत व्याख्या एवं विवेचना की गई है | अधिकृत प्रमाण के अभाव में महर्षि का काल निर्धारण नहीं हो पाया है.............

Description about eBook : A total of seven parts of the Kama Sutra Vatsayayan. Each part is divided into several chapters. There are many verses in each chapter. Sanskrit literature lovers and the first to feature was a Hindi translation. Vatsayayan Maharishi was born in Bihar and one of ancient India's most important writers. Maharishi Vatsayayan adornments of the Kama Sutra is not only marriage but arts, crafts and literature has also edited. The location is in the sense of Kotilya work in Economy, is the location of Maharishi Vatsayayan. The Kama Sutra of Vatsayayan Maharishi is the world's first sex Code, sexual love, theories, and detailed explanations and analyzes of use. Authorized in the absence of evidence is not determined period of Maharishi....................




Post a Comment

Note: Only a member of this blog may post a comment.

 
Top